00324fc9d7109e097332c96a541277f12be11469 How to Create a Website And Earn Money . All Setup Is Very Easy . You can also earn money from affiliate program by creating a website. - GOVERNMENT SCHEME SCAM

जिन छोटे मोटे भ्रष्टाचार पर सरकार ध्यान नहीं दें पाती है उन्हें अब हम बताएँगे।

Breaking

शुक्रवार, 26 अगस्त 2022

How to Create a Website And Earn Money . All Setup Is Very Easy . You can also earn money from affiliate program by creating a website.

       क्या आप भी वेबसाइट बनाकर पैसा कमाना चाहते हैं। तो आइये आपको A2Z बताते हैं How to Create a Website?



  Use Google Translate to read in your own language.

      वेबसाइट बनाकर पैसे कमाने के कई तरीके आपको भी सुनने को मिले होंगे। लेकिन जितनी आसानी से आपको बताया जा रहा है पैसे कमाना उतना आसान भी नहीं होता है। काफी मेहनत करनी होती है। 

  • शुरुआत में सरल लगता है 
  • फिर कुछ दिन बहुत कठिन होता है।
  • अंत में फिर सरल हो जाता है अगर समझा जाये तो अंतिम रास्ता बहुत ही सरल हो जाता है।

यूँ समझ लो मकान बनने में मेहनत लगती है उसके बाद उसमें सिर्फ रहना और मेंटेन करना है। वैसे ही वेबसाइट बनाने में शुरुआत की मेहनत करने के बाद उसमें सिर्फ मेंटेन करना होता है, ( अपग्रेड करते रहना होता है )

Website बनाने के 3 कारण होते हैं।

  • 1 खुद का माल बेचने के लिए
  • 2 दूसरों का माल बिकवाने के लिए।
  • सिर्फ अपनी सर्विस को लोगों तक पहुँचाने के लिए।

   लेकिन हम बात शुरू करते हैं दूसरे सेटअप से जो दूसरों का माल बिकवाने के लिए इस्तेमाल होता है।

      दूसरा तरीका यह है आपको कोडिंग न भी आती हो फिर भी You Can Create a Website । जिसके लिए आप वर्डप्रेस गूगल ब्लॉगर आदि कई प्लेटफार्म हैं जहाँ से You Can Create Your own Website. यहाँ आपको सिर्फ लिखकर कन्टेट  डालने होते हैं। और ऑन पेज SEO का विषेस ध्यान रखना होता है। यहाँ आप फ्री का डोमेन नाम भी यूज कर सकते हैं।

आपको दूसरे के प्रोडक्ट को बिकवाना है आप इस तरह की वेबसाइट बना रहे हैं। जिसके लिए आपको।

  • बहुत ही जानकारी से भरपूर कमसे कम 30 या उससे अधिक पोस्ट अपनी वेबसाइट पर डालनी होंगी।
  • पोस्ट इतनी अच्छी हों यूजर आपकी पोस्ट तक पहुंचे और आपकी पोस्ट को ध्यान से पढ़े।
  • यूजर आपकी पोस्ट पर पढ़ने के लिए आया है लेकिन उस पोस्ट के बीच बीच में आपको किसी अन्य कम्पनी के प्रोडक्ट के Ads को लगाना है।

मतलब आसान भाषा यह है कि आप अपनी वेबसाइट पर यूजर बुला तो अपना आर्टिकल पढ़ाने के लिए रहे हैं साथ में उसको प्रचार भी मिल रहा है।

अगर वह यूजर आपकी पोस्ट पर दिखाए गए विज्ञापन से कुछ करता है।

  • जैसे - Ads पर क्लिक करना  ,  या प्रोडक्ट को खरीदना।

जिससे आपको कमीशन मिलता है।

     इस तरह की वेबसाइट बनाने के लिए आपको कोई निजी वेबसाइट या फिर google blogger, wordpresse, और भी बहुत से प्लेटफार्म हैं जहाँ से You Can Create Your own Website.

       आप वेबसाइट बनाने की दुनियां में नये हैं और पैसा कमाना चाहते हैं तो उसके लिए भी आपको कमसे कम 6 माह और उससे अधिक 2 वर्ष का समय भी लग सकता है तब कहीं कमाई शुरू होती है।

      अगर आपको website बनाकर कुछ ही दिनों में एडसेंस का अप्रूवल मिल गया है फिर भी पहले दिन से आप पैसा नहीं कमा सकते हैं आपको बहुत अधिक समय देना होगा और काम भी करना है। जितना आसान आपने किसी वीडियो आदि में देखा है उतना आसान नहीं है। 

एडसेंस गूगल का प्रोडक्ट है जो आपकी website की पोस्ट पर विज्ञापन दिखाता है। जब कोई यूजर आपकी साइट पर आता है वह विज्ञापन भी देखता है। आपको विज्ञापन दिखाने का भी पैसा मिलता है। और यदि कोई यूजर आपकी website पर दिखाए गए विज्ञापन पर क्लिक करता है तो उसका पैसा अलग से मिलता है।

Click here to know complete details about AdSense.  >>>>>

      आप website बनाकर बिना एडसेंस के भी पैसे कमा सकते हैं। उसके लिए आपको एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करना होगा।

  You can also earn money from affiliate program by creating a website. एफिलिएट प्रोग्राम से पैसे कमाने के लिए थोड़ी मेहनत ज्यादा करनी होती है। लेकिन कमाई एडसेंस के अधिक होती है।

आपने अगर अपनी website को एफिलिएट प्रोग्राम के लिए कुछ इस तरह से काम करना होगा।

  • आप जिस प्रोडक्ट को प्रमोट कर रहे हैं उसके संबंध में आर्टिकल लिखना होगा।
  • आर्टिकल के कीवर्ड खोजने होंगे।  
जैसे कि आप सैमसंग के mobile को प्रमोट कर रहे हैं। तो  आपको सैमसंग mobile को कितने लोग google पर किस तरह सर्च कर रहे हैं वह वाक्य आपको आर्टिकल में कई जगह देना होगा।

सैमसंग मोबाइल के बारे में बहुत ही अच्छी तरह समझाना होगा। जिससे यूजर आपके लिंक से उस मोबाइल खरीद सके।

Click here to understand more about the Affiliate Program. >>>>>

-

   कुछ वेबसाइट दूसरे के प्रोडक्ट को ही बेचती हैं जिनके पास यूजर को बुलाने के लिए किसी आर्टिकल की जरुरत नहीं है। वहां सिर्फ आपको छोटे से छोटा बड़े से बड़ा प्रोडक्ट मिलेगा। उदाहरण  जैसे - Amazon, फ्लिपकार्ट, Alibaba आदि कई वेबसाइट हैं।

यह वेबसाइट इतनी पॉपुलर हो चुकी हैं कि यदि आप इस तरह की कोई वेबसाइट बनाकर तैयार करते हैं तो बहुत मुश्किल काम हो जायेगा आपको उसी ऊंचाई तक पहुंचने के लिए।

     इस तरह की website बनाने के लिए 

  • आपको अपना बजट भी मजबूत रखना होगा 
  • टीम भी रखनी होगी तब कहीं सफलता हासिल हो पायेगी।

   सबसे सरल तरीका किसी दूसरे के प्रोडक्ट को बेचने का ब्लॉगर website ही है यहाँ पर सिर्फ आपको बेहतरीन आर्टिकल लिखकर पोस्ट करने हैं। यह काम आप अकेले ही कर सकते हैं। बस थोड़ा सब्र रखना है और टाइम देना है।

-

      आप अगर चाहो आपको जरा सी भी नॉलेज है तो आप इसी  एक पोस्ट से बहुत कुछ सीख सकते हैं। आपको वेबसाइट बनाने की जरा सी भी नॉलेज नहीं है और आप फिर भी वेबसाइट बनाना सीख सकते हैं।लेकिन आप ऐसे में जीरो से हीरो तो नहीं बन पाओगे और में गारंटी भी नहीं दे रहा हूँ कि आपको हीरो बना दूंगा। हाँ यदि आप सच में होसियार हैं जो चीजों को आसानी से परख सकते हैं तो आप वेबसाइट बनाकर पैसे कमा सकते हैं। जिसके लिए आपको जल्दबाजी नहीं पोस्ट में लिखे प्रत्येक स्टेप पर ध्यान देना है और ध्यान से पढ़ना है।


      आज आप इस पोस्ट में वेबसाइट बनाकर पैसे कमाने के सही और फेक तरीकों को समझेंगे। बहुत से बताने वाले आपको यह तो बता देंगे की वेबसाइट पर ट्रैफिक कैसे लाया जाये। पर आप जानते हैं कुछ ऐसे भी तरीके हैं जिनसे ट्रेफिक लाया जा सकता है। How to increase website traffic. Click To READ >>>>

     फ्रेंड वेबसाइट दो तरह से बनाई जाती हैं एक तो आपको कोडिंग का ज्ञान होना जरुरी होता है जिसमें आपको वेबपेज़ आदि बनाने की नॉलेज होनी चाहिए। यहाँ आपकी वेबसाइट निजी ही रहेगी कई तरह की सेटिंग आदि करनी होती है। 

-

अब बात करते हैं website बनाने के पहले मकसद के बारे में।

       इस तरह की वेबसाइट को बनाने के लिए आपका मकसद कम हो सकता है फिर भी एक उदाहरण आपको समझा रहे हैं।

      माना की आपकी एक कम्पनी हैं जैसे कि Adidas, Adidas के पास कई तरह के प्रोडक्ट हैं। तो यह कम्पनी खुद के प्रोडक्ट का प्रमोशन करने के लिए खुद की वेबसाइट का इस्तेमाल भी करते हैं।

Website बनाने का तीसरा उद्देश्य।

       कुछ सरकारी या गैर सरकारी संगठन होते हैं जिन्हें अपनी सर्विस को पब्लिक तक पहुँचाने के लिए खुद की website का इस्तेमाल करना होता है।

    उदाहरण के लिए- सरकार की जितनी भी मिनिस्ट्री होती हैं। उन सभी विभागों की एक website होती है। जैसे की रेलवे विभाग है तो उनकी खुद की एक website है।

  • यहाँ अपनी सर्विस के बारे में सूचनाएँ होती हैं।
  • कुछ भी नया होने जा रहा है उनका अपडेट दे दिया जाता है।
  • विभाग कितने मुनाफे में या घाटे में है अपडेट होता है।
  • उपभोक्ता शिकायत कॉलम भी होता है कई website में।

यानी की विभाग के बारे में जितनी भी हो सकती है उतनी पारदर्शिता दिखाई जाती है।

  • इनको किसी भी affiliate या एडसेंस प्रोग्राम की जरुरत नहीं होती है।     

 Note-इस तरह की website को किसी भी तरह के प्रोडक्ट को बेचने से मतलब नहीं होता है।

-

    आपने कभी कभार ध्यान दिया होगा कुछ publisher सेक्स उत्तेजना से सम्बंधित पोस्ट लिखते हैं। जैसे की भाभी के साथ ----------। पड़ोसन के साथ _-----। दोस्त की माँ, बहिन या भाभी के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाया। उसमें तरह तरह की काल्पनिक कहानियाँ होती हैं। यह कहानियाँ सच नहीं होती हैं। 

  • इस तरह की कहानियाँ लिखने वाले यूजर ठरकी टाइप के विजिटर बुलाते हैं।
  • और यूज़ पोस्ट के बीच में शारीरिक सम्बन्ध बनाने वाली सामिग्री आदि दवाई का प्रचार करते हैं।




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

पेज