00324fc9d7109e097332c96a541277f12be11469 Satta king आज का नम्बर अगर आपके दिमाग में चल रहा है उससे पहले यह जान लो आप बर्बाद तो नहीं हो रहे हैं। - GOVERNMENT SCHEME SCAM

जिन छोटे मोटे भ्रष्टाचार पर सरकार ध्यान नहीं दें पाती है उन्हें अब हम बताएँगे।

Breaking

रविवार, 31 जुलाई 2022

Satta king आज का नम्बर अगर आपके दिमाग में चल रहा है उससे पहले यह जान लो आप बर्बाद तो नहीं हो रहे हैं।

    अमीर तो हर कोई बनना चाहता है में भी चाहता हूँ लेकिन Satta ka nambar लगाकर नहीं आप भी Satta khelna  बन्द कर दो तो बहुत अच्छा होगा।

Use Google Translate to read in your own language.

अगर आप भी satta lagate हैं तो कृपया पोस्ट को ध्यान से पढ़ें और बर्बाद होने से सायद बच जाएँ।

          अमीर बनने का सपना हर कोई देखता है और इस तरह से अमीर बनना चाहता है कि शरीर से कोई मेहनत न करनी पड़े पैसा ही पैसा आ जाये। जो लोग बिना मेहनत और बिना किसी अनुभव को सीख कर पैसा कमाना चाहते हैं ऐसे अधिकतम लोग satta lagana आरम्भ कर देते हैं। या अन्य कई प्रकार के जुआ खेलते हैं।



       ऐसे लोगों में से कितने 99% लोग बिल्कुल बर्बाद हो चुके हैं। किसी अन्य काम में मन नहीं लगता है बस एक ही सपना रहता है कि जुए में जीत कैसे मिलेगी? Satta  ka nambar कैसे मिलेगा?

      जुआ खेलना ही ख़राब चीज है ठीक वैसे ही सट्टा का हाल है। हमने सुना तो कई सट्टेबाजो के मुंह से है कि फला गांव का व्यक्ति सट्टा लगाकर ही अमीर हुआ है। लेकिन हमने आज तक देखा किसी को नहीं है जो सट्टा लगाकर अमीर हुआ हो।

--------------------------------------------------------------------------

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

आपके बैंक खाते में जमा पूंजी जरा सी लापरवाही में ठगों के हत्थे चढ़ सकती है Click To Read

PM आवास योजना घोटाला में रिश्वत अधिकारी खा गए और रिकवर गरीब से किया जा रहा है। Click to Read

Panchayat Chunav से विकास की दर कई गुना बढ़ जाएगी बस एक वर्ष में दो बार होने लगें.Click To Read

---------------------------------------------------------------------------

      Satta lagana, जुआ खेलना, क्लब में जाना इन लोगों को बर्बाद होते सभी सट्टेबाजो ने देखा है हमने भी देखा है लेकिन सट्टेबाज यह नहीं कहते हैं कि वह आदमी बर्बाद हो गया है। क्योंकि उनकी मानसिकता में सिर्फ यही चल रहा है कि किसी न किसी दिन अपना nambar जरूर आएगा।

-

Satta ka nambar कैसे मिलेगा?

आप खोजते रहते हैं कि satta ka nambar कैसे मिलेगा? हमने satta lagane वालों की मानसिक हालत कुछ इस तरह से देखी है


  • अगर रात को कोई सपना देखा है तो सुबह उसी सपने के बारे में कई तरह का गणित लगाते हैं और कई satta ke nambar तैयार करते हैं।
  • अगर दिन में उनके साथ कोई घटना होती है तो उसी घटना पर भी गणित लगाते हैं और कई satta ke nambar तैयार करते हैं।

  • कोई dhongi baba आदि मिल जाएँ उनसे पूंछते हैं " महाराज आज कोई नम्बर हो बतायें " महाराज भी ठग विद्या में माहिर हैं 10 रूपये लेकर कुछ न कुछ उल्टा सीधा बता देते हैं और चले जाते हैं।
  • पिछली तारीख को जो satta ka nambar निकला था उस नम्बर से आज आने वाले के लिए कई प्रकार के गणित लगाते हैं।
  • आज आने वाले नम्बर के लिए पिछली कई वर्षों तक का डाटा निकालते हैं कि पिछली वर्ष 17 नवम्बर को कितना नम्बर आया था? और कई तरह के प्रयोग करके आज के लिए कई नम्बर तैयार करते हैं।
  • Satta khelne वालों की जिंदगी चिड़चिड़ी हो जाती है वो घर में किसी से भी कम बात करते हैं। उनकी अलग ही दुनियां हो जाती है।
  • Satta lagane वाले व्यक्तियों को नींद बहुत आती है थोड़ी देर सोये अगर कोई सपना आया तो जाग गए और कल आने वाले नम्बर के लिए गणित लगाना सुरु।
  • Satta lagane वाले व्यक्तियों का काम में मन भी बहुत कम लगता है। अगर काम मकरते भी हैं तो ध्यान satta ka nambar कैसे मिले इसी बात पर होता है।


सट्टा किंग बनने वालों का हर सुबह हाल कुछ इस तरह होता है।


  • सबसे पहले तो पता करते हैं कि मेरा लगाया हुआ सट्टा का नम्बर फसा है या नहीं।
  • अगर नम्बर नहीं आया है तो काफी देर तक डिप्रेशन में रहेंगे और कुछ देर बाद फिर अगले दिन के लिए नम्बर लगाने की तैयारी करेंगे।
  • यार कल सट्टा का नम्बर लगाया बस एक अंक चूक गए 62 लगाया था आ गया 63।
  • क्या यार आज तो बिल्कुल ही जरा सा चूक गए बाबा जी ने 51 बताया था 15 आ गया जानते तो उल्टा करके लगा देते।

-

        Satta lagane वालों के लिए प्रशासन का दोगला रवैया देखने को मिलता है अगर रोकते हैं और पकड़ते हैं तो सिर्फ satta lagane वालों को। इतनी हिम्मत नहीं होती है कि जो कम्पनी सरेआम satta king के नाम से जनता को लूट रही है उसे बंद नहीं करवा सकते।

       Satta king कोई छुपा हुआ व्यापार नहीं है। आपको इंटरनेट पर कई वैबसाइट मिल जायेगी जो satta king को प्रमोट कर रहे हैं।

        Satta की जानकारी देने वाली वैबसाइट की खास बात यह है कि  इन वेबसाइट पर लाखों का ट्रेफिक एक दिन में आता है फिर भी इनका सर्वर डाउन नहीं होता है।

        Satta ka nambar जो पिछली तारीखों में आया है उन सब की जानकारी देने वाली वैबसाइट पर कई ऐसे पाखंडियों के नंबर होते हैं जो आपको फोन पर ही satta ka nambar बताते हैं। जो एक दम ठगी का नया तरीका है।

-

Satta lagane वाले को सबसे अधिक बेवकूफ पाखंडी बनाते हैं।

एक जगह बैठ गए और हर रोज कई सट्टा लगाने वाले लोग पहुँचते हैं।

           पाखंडी झाड फूंक करके कोई न कोई हिंट दे देता है कि जाओ आज यह satta ka nambar आएगा। एक दिन में 100 लोग पूंछने वाले आये जिनमें से 5 लोगों का सट्टा फस ही जाता है। 5 लोगों के सट्टा फसने से अन्य सटोरिया भी प्रभावित हो जाते हैं और कहते हैं बहुत माने हुए बाबा जी हैं।

          सट्टा का नम्बर पूछने वालों को इतनी अक्ल नहीं होती है अगर एक दिन में 100 लोगों को हिंट दी है जिसमें से 5 लोगों का तुक्का लगना ही है। अगर माने हुए बाबा हैं तो आये हुए सभी श्रद्धांलुओं का भला होना चाहिए।

Satta ka nambar कैसे निकाला जाता है?


       Satta ka nambar कैसे निकालें अगर आप यूट्यूब पर खोजें तो आपके सामने सैकड़ो वीडियो आ जायेंगे। सभी वीडियो एकदम से आपको satta ka nambar निकालने के लिए अचूक ट्रिक बताने का दावा करते हैं।

       इस तरह के झूंठ फैला कर लोगों को गुमराह करने वाले यूट्यूब चैनल गूगल के हिसाब से जायज हैं जो लोगों को गलत शिक्षा दे रहे हैं। भारत सरकार की भी इस तरह के चैनल्स पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही है।

--------------------------------------------------------------------------

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

हर घर को शुद्ध जल पहुँचाने का काम कितनी हकीकत है कितना झूंठ है।क्लिक करके पढ़ें।

Online Game खेलने की लत अगर आपको भी है! हम आपको रोक नहीं सकते Click To Read

ऑनलाइन एग्जाम कैसे होता है यह तो जानना सरल है लेकिन उसमें स्कैम कैसे होता है यह भी जान लो। Click To Read

---------------------------------------------------------------------------

        Satta ka nambar लगाने पूरे दिन रात अपने साथ हो रही हर घटना पर ध्यान देते हैं। और हर घटना का निष्कर्ष निकालते हैं। सभी निष्कर्ष से कई नम्बर तैयार करते हैं। सभी नंबर पर 10 रूपये 20 रूपये का दाँव लगाते हैं।

        महीने 15 दिन में एक आध बार कभी कोई नम्बर फस जाता है।  जो पूरे महीने के खर्चे को पूरा नहीं कर सकता है।

        Satta ka nambar लगाने वाले के कपडे भी ठीक ठाक नहीं होते हैं। क्योंकि अगर वह एक बनियान लेने के लिए रूपये इकट्ठा ही नहीं कर पाता है। अगर कहीं से 100 रूपये कमा भी लिए तो कमसे कम 90 रूपये दाँव पर लगा देता है और सोचता है अगर सुबह nambar आ गया तो कई बनियान खरीद लूंगा लेकिन सुबह ऐसा नहीं होता है।


      सट्टा लगाने वाली कम्पनी सरेआम अपना व्यापार चला रही हैं जबकि कोर्ट और कानून के अनुसार यह सब अवैध कारोबार कहा जाता है। जहाँ तक पहुँच है वहां एजेंट होते हैं। एजेंटो के माध्यम से सट्टा लगाने वाले अपना व्यापार चलाते हैं। जब कभी अगर पुलिस पकड़ती भी है तो उसे जो पहले से ही सट्टा लगाकर बर्बाद हुआ बैठा है।


  •    सट्टा लगाने वाले कहते हैं कि जिसे नम्बर को कम लोगों ने लगाया है वही नम्बर सुबह लकी ड्रा में खोला जाता है।

  • कुछ सट्टेबाज ऐसा मानते हैं जिस नम्बर का कम्पनी को सबसे कम पेमेंट देना होता है वही नम्बर सुबह लकी ड्रा में खोला जाता है।

  • जो यूट्यूब आदि पर अपने चैनल चलाकर satta ka nambar निकालने का तरीका बता रहे हैं उनकी भी अपनी थ्योरी है।

  • और जो पाखंडी लोगों को ठग रहे हैं उनके अपने गणित हैं।


Satta ka लकी नम्बर कैसे निकालते हैं इसमें बातें सभी की सही हो सकती हैं। लेकिन आप क्या सच मानते हो आप पर निर्भर है।

सट्टेबाजी कैसे बन्द होगी?

     मुझे तो यह असंभव लगता है की सट्टेबाजी बन्द हो जाये। क्योंकि जब रजिस्टर्ड कम्पनी सरेआम जुआ खिलवा रहीं हैं। उनके टीवी पर विज्ञापन आ रहे हैं जिन्हे कोर्ट भी कुछ नहीं कर पा रहा है तो मेरी क्या ओकात है।

सट्टे का बिजनेस बन्द हो न हो लेकिन अगर ऐसे लोगों को पकड़कर कार्यवाही की जाये 

  • जो यूट्यूब पर satta ka नम्बर बता रहे हैं।
  • जो वेबसाइट बनाकर पूरे देश के satta के नम्बरों की अपडेट दे रहे हैं।
  • जो लोग ऑनलाइन व्हाट्सप्प से या मोबाइल पर लोगों को satta ka nambar बता रहे हैं।
  • अगर इन पर कार्यवाही की जाये तो सट्टे ka कारोबार चलाने वालों की कमर टूट सकती है।












कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

पेज