On this website, along with entertainment, you will get news of health, technology, and country and abroad. News posts are available in Hindi and English on our website.

Translate

Breaking

Thursday, June 3, 2021

अपात्र Rashan Card धारक से तो वसूली कर लोगे। लेकिन जिन्होने पूरे महीने का राशन खाया उनका क्या होगा कालिया!?

      भारत के राशन डीलर पूरे दो दो महीने का राशन खा गए। जिस Rashan Card धारक को 20 किलो मिलना था उन्हें 15 ही दिया इन बेईमानों से बसूली का क्या प्रोसेस है?


         दोस्तो हम आपको सरकारी खजाने से घोटाले करने के तरीके बताते रहते हैं अपनी पोस्ट में । उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग, खाद्य अपूर्ती विभाग से घोटाला करने की विधि पिछली 2  पोस्ट में भी बताई हैं । सरकारी राशन में खाद्य अपूर्ती विभाग के सभी अधिकारी घोटाला करते हैं कोई भी अपना मौका नहीं छोड़ता, हम किस किस का नाम चिन्हित करें । राशन डीलर करते हैं, बचा खुचा आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता भी कर लेते हैं । 


अन्य संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए  नीचे दी गयी पोस्ट की लिंक पर क्लिक करें।

भारत में हो रही है पानी की किल्लत गर्मी आते ही नेताओं और न्यूज़ चैनल की नौटंकी सुरु। click to read

आपके बैंक खाते में जमा पूंजी जरा सी लापरवाही में ठगों के हत्थे चढ़ सकती है Click To Read

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग का 3 महीने में सिर्फ 1 माह का राशन बांटा जाता है बाकी का घोटाले की भेंट।Click To Read

     उपभोक्ता तक 30% ही पहुँच पाता है हो सकता है थोड़ा बहुत ज्यादा भी हो, पर मुझे लगता है बजट आदि में घोटाला करके 30 % ही मिल पाता है । फिर भी कोई न कोई कमी छूट हर पोस्ट में छूट जाती है कि आपको घोटाला करने के और कितने तरीके बताऊँ । आज आपको फिर से कुछ दूसरे तरीके भी बताएँगे । और आपसे अनुरोध है मेरी किसी पोस्ट को दिल पर न लें । सभी पोस्ट में जो तरीके आपको बताते हैं बो कुछ भी नया नहीं है । जो आप सभी देखते हैं हम भी वही देखते हैं । हमने सिर्फ वही बात लिखना शुरू किया है ये सिर्फ एक व्यंग मात्र है ।

 

     सबसे पहले तो आपको आंगनवाड़ी कार्यकर्ता होना अनिवार्य है । या किसी महिलाओं के स्वम सहायता समूह ( Self Help Group ) से जुडा होना अनिवार्य है । आप एक स्त्री हैं या पुरुष हैं प्रॉफिट बराबर निकाल सकते हैं । अब आपको मुनाफा कैसे कमाना है इस बारे में समझते हैं । लेकिन उसके पहले Rashan Card धारकों के साथ धोखाधड़ी पर भी नजर डालते हैं ।

 राशन डीलर rashan card से बचत कैसे करते हैं?

     उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग सरकार के यहाँ से उतना ही राशन एक ग्राम पंचायत के लिए आवंटित किया जाता है जितने उस ग्राम पंचायत के Rashan Card  में सदस्य हें । यदि एक सदस्य के लिए 5 किलो राशन है तो एक राशन कार्ड में 5 सदस्य हें तो उसे 25 किलो राशन दिया जायेगा । एक उदाहरण के तौर पर एक ग्राम पंचायत में 100 Rashan Card  हैं । जिसमें किसी Rashan Card धारक के कार्ड में या परिवार में 2 या तीन सदस्य होते हैं, किसी राशन कार्ड धारक के राशन कार्ड में 6 या उससे भी अधिक सदस्य होते हैं। 

   हमने एक एवरेज लगाया प्रत्येक राशन कार्ड पर 3 सदस्य हैं तो एक ग्राम पंचायत के राशन कार्ड धारकों की या सरकारी राशन के 300 उपभोक्ता हैं। सरकार इन सभी उपभोक्ताओं को प्रतिमाह राशन बिल्कुल सस्ते रेट पर देती है । राशन कार्ड दो प्रकार के होते हैं । अंत्योदय कार्ड और पात्र गृहस्थी, जिसमें से अंत्योदय कार्ड धारकों को बहुत ही सस्ता राशन दिया जाता है ।

 

      उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग इस Rashan Card के आनाज पर बहुत खेल होते हैं यह बात शासन-प्रशासन सभी जानते हैं। पर कोई कहता इसलिए नहीं जो कहने वाला है बो भी चोर है, जो सुनने वाला है वो तो चोर है ही । इस खेल को भी कम शब्दों में समझ लेते हैं । जरुरी यह है आपको राशन कार्ड धारकों  को आनाज बेचने का लाइसेंस कह लो परमिशन होनी चाहिए। हमारे यहाँ की क्षेत्रीय भाषा में जिसे डीलर भी कहा जाता है । राशन कोटा मालिक भी कहा जाता है। आपके यहाँ जो भी कहा जाता हो । उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग राशन डीलर बनते कैसे हैं हमने पिछली पोस्ट एक पोस्ट में बताया है।

 

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग
बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग

       उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग Rashan Card धारकों के 12 माह के आनाज में से प्रत्येक माह की निश्चित तारीख से 4 या 5 दिन बाद में आनाज बाँटने से एक वर्ष में राशन कार्ड धारक को सस्ते रेट का आनाज मात्र 10 बार ही मिल पाता है । जबकि मिलना 12 बार चाहिए। 2 बार का आनाज विक्रेता को बचत हो जाता है । आप भी अगर यह विधि आजमाना चाहते हैं, आपको जानकारी नहीं है तो में समझाता हूँ । माना की आज 1 जनवरी है और राशन कार्ड धारकों को राशन विक्रेता द्वारा 2 जनवरी को आनाज बाँटना है । 


अन्य संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए  नीचे दी गयी पोस्ट की लिंक पर क्लिक करें।

मनरेगा से रोजगार सेवक ने फर्जी ड्यूटी से लाखों की फर्जी की कमाई।Clik To Read 

भारत के लोग बेरोजगारी की चपेट में हैं। और विज्ञापन में कम्पनी को वर्कर नहीं मिल रहे हैं। Click To Read

ग्राम विकास अधिकारी से ग्राम का विकास हो  हो लेकिन खुद का खूब हुआ है। Click To Read


   आप एक दिन बाद 3 जनवरी को Rashan Card धारकों को आनाज दे सकते हैं । जिसका कोई भी विरोध नहीं करेगा बो सोचेगा एक आध दिन में कुछ नहीं बिगड़ता है। अगले माह फिर 3 फरवरी को आनाज बाँटना है Rashan Card धारकों को तो आप 6 या 7 फरवरी को बाँट सकते हैं । इस पर भी कोई राशन कार्ड धारक नहीं समझ पायेगा । फिर आपको अगले माह 7 मार्च को आनाज बाँटना चाहिए लेकिन आप 12 या 13 मार्च को आनाज बाँटे कोई नहीं समझ पायेगा। फिर आपको 13 अप्रेल को आनाज बाँटना चाहिए एक माह बाद। आप इसमें भी 17 या 18 अप्रेल को बाँटे। यही क्रम दिसम्बर तक चलाना है प्रत्येक माह 5 या 6 दिन बढाकर। आपको कमसे कम दो माह का आनाज बच जायेगा ।

 

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग
बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग

      दूसरा खेल उसी आनाज में इस तरह से भी होता है । आप Rashan Card धारकों को एक निश्चित तौल में कम करके भी राशन कार्ड धारकों के आनाज से बचत कर सकते हैं । किसी राशन कार्ड धारक को 20 किलो आनाज देना है आप 17 या 18 किलो ही देकर तौल में गड़बड़ कर दें । किसी राशन कार्ड धारक के राशन कार्ड में 5 सदस्य हैं जिसके हिसाब से उसे 25 किलो आनाज देना चाहिए । आप उसमें भी राशन कार्ड धारक से यह कह कर 4 सदस्य का आनाज ही दें इस बार आनाज कम आया है।


     आप किसी राशन कार्ड धारक की उंगली का निसान अपनी डिवाइस पर ले लें फिंगर स्कैन का काम सक्सेसफुल होने के बाद Rashan Card धारक से यह कहना है आपकी उंगली काम नहीं कर रही कल आना , फिर परसों आना, कई बार यही बहाना देने के बाद अगले महीने ही आनाज देना । ऐसे भी काफी आनाज की बचत कर सकते हैं। आप इस तरह से सेंकणों क्विंटल आनाज बचा सकते हैं। आप पैसे की भी बचत कर सकते हैं । किसी के राशन की कीमत जैसे की 32 रूपये है तो आप उससे 40 रूपये ले सकते हैं । 8 रूपये अधिक देने का विरोध राशन खरीदने वाला इसलिए नहीं करता है अगर उसे 3 रूपये किलो के हिसाब से राशन मिला है तो 4 भी देकर कुछ नहीं कहता है ।  

  

 उo प्र o खाद्य एवं रसद विभागराशन आपूर्ती, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, महिला कल्याण विभाग, गर्भवती महिला आहार ।

 

     अब उसी उo प्र o खाद्य एवं रसद विभाग राशन में दूसरे खेल को समझते हैं जो आंगनवाड़ी केंद्र के द्वारा जो बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा 3 साल के बच्चों और गर्भवती महिलाओं को महिला कल्याण विभाग द्वारा जननी सुरक्षा द्वारा फ्री में दिया जाता है । उस महिलाओ और बच्चों की पोस्टिक सामिग्री में से घोटाले होते हैं । वैसे तो जो भी सामिग्री आंगनवाड़ी केंद्रों के द्वारा दी जाती है वह बहुत ही पौस्टिक होती है उस सभी सामिग्री का प्रयोग हमने किया है बहुत अच्छा होता है । लेकिन लोगों के दिमाग में यह कीड़ा बैठा होता है वह सभी सामान नकली है।


अन्य संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए  नीचे दी गयी पोस्ट की लिंक पर क्लिक करें।

आप पैसा खर्चा करके एक नामी कवि बन सकते हैं। जानिए कैसे इस लेख में पूरी जानकारी देंगे।  Click To Read

Pm Kisan Nidhi Yojna के गलत खातों में पैसे जा रहे हैं फर्जी किसान बने हैं बसूली किनसे होगी? क्लिक करके पढ़ें।

रिपोर्टर या पत्रकार का पहचान पत्र बनवाकर आप बेरोजगारी में भी अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। Click to Read


       शहर के लोग समझ भी लेते हैं हमारे गाँव के लोगों के घरों में भूसा भरा होने के साथ दिमाग में भी भूसा होता है अच्छी बात और अच्छी वस्तु की पहचान खुद न करके दूसरे पर छोड़ देते हैं। सामिग्री खराब या नकली होने की अफवाह सुनकर जिसकी वजह से सामिग्री को कोई भी लाभार्थी लेना ही नहीं चाहता । सामिग्री को लेता भी है तो कुत्तों को खिला देता है, बकरियों और भैंस, गाय को खिला देता है खुद उसका प्रयोग नहीं करता है। लाभार्थी को वह सामिग्री न लेने की वजह से अच्छा मुनाफा होता है । वह आंगनवाड़ी कार्यकर्ता उस सभी सामिग्री को गाय भैंस रखने वालों को बेच देता है ।

 

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग,
बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग,

      इस बचत के बाद भी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और तरीकों से बचत कर लेती है उसके बारे में भी बताते हैं । एक आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता के पास कितने बच्चे हैं जो 3 वर्ष से कम हैं और कितनी महिलाएं हैं जो गर्भवती हैं । इस बात की डिटेल आशा बहिन के द्वारा उपलब्ध करवा दी जाती है । फिर उसी डिटेल्स के हिसाब से पोस्टिक खाद्य सामिग्री सरकार के द्वारा उपलब्ध करवा दी जाती है । अब आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कितने लोगों को देता है कितनो को नहीं देता है ये सब वह करता कैसे है? और सामिग्री में घोटाला हो जाता है ।


No comments:

Post a Comment

Total Pageviews

पेज