On this website, along with entertainment, you will get news of health, technology, and country and abroad. News posts are available in Hindi and English on our website.

Translate

Breaking

Thursday, April 1, 2021

भारत में पंचायत चुनाव लड़ने के लिए 1 करोड़ रूपये खर्चा करना होता है। ग्राम प्रधान की तनख्वाह आप भी ले सकते हैं। Panchayat chunav

      पंचायत चुनाव का इंतजार हर किसी को रहता है अगर आपको भी रहता है तो 1 करोड़ रूपये चुनाव लड़ने के लिए तैयार रखो।


       पिछली कई वर्षों से देख रहा हूँ ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ने के लिए,पंचायत चुनाव लड़ने के लिए लोग करोड़ों रुपये खर्च कर देते हैं । और अगर पंचायत चुनाव जीत जाते हैं तो सभी पैसा घोटाला करके रिकवर किया जाता है । घोटाला कैसे किया जाता है ये भी हमने पिछली दो पोस्ट में लिखा है जिनको पढ़ने के लिए इन लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं ।

          ग्राम प्रधान को सेलरी मिले या न मिले ये बाद का विषय है अगर सही नजरिये से देखा जाए जिस हिसाब से राजनीति करने वाले लोग जिस हिसाब से कमाई करते हैं जनता के पैसे से उस हिसाब से ग्राम प्रधान को सैलरी की जरुरत ही क्या है? आवास योजना के पात्रों से कमीशन लेना है। स्वच्छ भारत अभियान में शौचालय पर कमीशन लेना है। और बहुत से विकल्प हैं ग्राम प्रधान बनकर पैसे कमाने के। आप जितना भी कमाओगे आपसे कोई कुछ नहीं कहेगा। 

      अगर कोई घोटाला करने की वजह से आपके विरोध में आता भी है उसका मुंह बंद करने के लिए उसे कोई सरकारी अच्छा सा लाभ देदो जिससे वह चुप हो जाये। फिर भी बात नहीं बन रही है तो आपके खिलाफ कार्यवाही करने वाले लोग भी कमीशन पर बंधे हुए हैं कार्यवाही कैसे होगी। जबतक आपके पैसे में खनक बोलती रहेगी कोई अधिकारी कार्यवाही नहीं करेगा। कार्यवाही जब सर से ऊपर निकल भी रही है तो सिर्फ आपको ग्राम प्रधान को फसाया जायेगा सभी कमीशन खाने वाले अधिकारी आपको फसा देंगे।

---------------------------------------------

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

आप पैसा खर्चा करके एक नामी कवि बन सकते हैं। जानिए कैसे इस लेख में पूरी जानकारी देंगे।  Click To Read

Pm Kisan Nidhi Yojna के गलत खातों में पैसे जा रहे हैं फर्जी किसान बने हैं बसूली किनसे होगी? क्लिक करके पढ़ें।

रिपोर्टर या पत्रकार का पहचान पत्र बनवाकर आप बेरोजगारी में भी अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। Click to Read

---------------------------------------------


ग्राम प्रधान की सैलरी

      किसी ग्राम प्रधान ( पंचायत सदस्य ) से हमने आज  तक नहीं पूंछा कि ग्राम प्रधान की सैलरी, तनख्वाह कितनी दी जाती है । फिर भी खोज करके पता किया प्रधान की सैलरी 3500 रुपये मानदेय मिलता है । लेकिन इस बार पंचायत चुनाव से पहले एक खबर मिली बो झूठ थी या सच थी जैसी भी थी । उस खबर को पढ़ कर अपने आप में आनन्द का अनुभव आ रहा था। सोच रहा था कि अब तो पंचायत चुनाव एक बार जरूर लड़ना है । अगर पंचायत चुनाव में सफलता मिल गयी फिर तो जिंदगी सेट हो जाएगी । पंचायत चुनाव से जीते हुए प्रत्याशी ( ग्राम प्रधान ) को 57 हजार रुपये की ग्राम प्रधान की सैलरी,तनख्वाह एक महीने की मिलेगी। यार एक साल का 6 लाख 84 हजार रूपये होता है । एक पंचवर्षीय योजना में 34 लाख 20 हजार रूपये होता है । आधा अधूरा खर्चा तो ऐसे ही निकल आएगा। बाकी बचा हुआ घोटाले करके तो किया ही जाता है ।


Panchayat Chunav लड़ने के लिए योग्यता ।

1-लोगों को बेवकूफ बनाने की कला  पंचायत चुनाव जीतने से पहले ही होनी चाहिए।

2-सबसे सश्ती शराव शराबी तक पहुँचानी होती है जिससे माहौल बनाया जा सके।

3-कमसे कम एक करोड़ खर्चा करने की गुंजाइस । Panchayat Chunav से पहले एक करोड़ रूपये खर्चा करने की हेंसियत।

4- पढ़ाई लिखाई कोई मायने नहीं रखती है ।

 

ग्राम प्रधान को करोङो हड़पते देखा है।

       एक ग्राम प्रधान पंचायत चुनाव में जो भी खर्चा करता उसे बापस पाने के लिए। एक प्रधानमंत्री आवास पर 50 हजार तक की रिश्वत लेता है। और कई योजनाएं होती हैं जिनमें प्रधान पूरा का पूरा पैसा हजम कर जाता है।


    आपको लगता है कि भारत भ्रस्टाचार से मुक्त हो रहा है। ऐसा नहीं है आप जहाँ भी देखो सब किसी न किसी चीज के दलाल बैठे हैं।

       आपको सिर्फ इतना आना चाहिए एक आवास में 50 हजार रूपये की बचत कैसे करनी है । आपको अपने कार्यकाल में 100 आवास भी ग्राम पंचायत के हिसाब से वितरित कर दिए । तो आपको पचास लाख तो बच ही जायेगा । और भी बहुत से काम हैं जिनमें घोटाले करके आप अपना खर्चा बसूल सकते हैं । कई खड़ंजे गली भी आपको बनवानी होती हैं । एक खड़ंजे की 1 लाख रुपये लागत पास हुई है जिसमें से आपको कमसे कम 60 हजार रुपये बचाने हैं । अगर मौका मिले तो पूरा हजम । रिपोर्ट की लिखित में बताना है खड़ंजा बन चुका है ।

 ------------------------------------------------

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

थूंकना मना होता है, जहाँ पेशाब करना मना होता है अक्सर वहीं लोग थूंकते और पेशाब करते हैं। Click To Read

किसान क्रेडिट कार्ड लोन जिसकी तीस हजार है उसकी 15 हजार में निपटाई जा रही है क्लिक करके पढ़ें।

शेयर बाजार का लुभावना विज्ञापन आपको थोड़ी देर में अमीर बना देगा। Click To Read

------------------------------------------------

      और हाँ हमने पिछली पोस्ट में भी पंचायत चुनाव के लिए 1 करोड़ खर्चा बताया था । खैर इतना नहीं होता है वो सिर्फ व्यंग था । इस प्रकार की सिर्फ अफवाह रहती है कि उसने चुनाव में इतना खर्चा किया है । बो इसलिए रहता है गरीब आदमी कभी चुनाव लड़ने कि न सोचे । आप अपना ब्यवहार लोगों में बनाये रखें। माना कि ये दारु मुर्गा बाँटने वाले चुनाव जीत लेते हैं और आप इतना खर्चा नहीं कर सकते तो जीतना मुश्किल है ।


        अपने आपको इतना संभाल लो लोग आपकी प्रशंसा करते ही न रुकें। अभी लोग गुमराह हो जाते हैं चापलूस लोगों की बातों में । शिक्षा कितनी भी खराब हो एक दिन जरूर शिक्षा ही काम आती है । अपना कल बनाने के लिए आज शिक्षित होना है । हिंसा, जेहाद जैसे कामों से दूर रहना । ये तो बो लोग करते हैं जिनको सिर्फ आप पर राज करना है । मजहब प्रेम हो जाये तो बहुत अच्छा होगा । बाकी पंचायत चुनाव लड़ने की तैयारी पूरी करनी शुरू कर दो मालामाल हो जाओगे । ग्राम प्रधान सैलरी मिलनी शुरू जो हो चुकी है ।

No comments:

Post a Comment

Total Pageviews

पेज