On this website, along with entertainment, you will get news of health, technology, and country and abroad. News posts are available in Hindi and English on our website.

Translate

Breaking

Friday, April 2, 2021

एक सफल अधिवक्ता की कहानी में कई निर्दोष लोगों से पैसा कमाया जाता है। अधिवक्ता कैसे बनें।

                    वकील भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ता है लेकिन खुद की गुजर रिश्वत से कर रहा हो तो सामाजिक विकास कैसे संभव है।

 वकील की कितनी कमाई होती है? वकील एक्स्ट्रा कमाई कैसे करता है? वकील बनने के लिए क्या करना होता है।

वकील advocate
वकील advocate 

        आप बेरोजगार हैं और थोड़ा पैसा है तो आप वकालत सीख लो L. L. B. की डिग्री ले लो । आप वकालत सीखने के बाद सरकारी वकील भले ही न बन पाएं जो लाखों एक दिन में कमा सकते हैं फिर भी पचास हजार महीने के आदमी बन ही जाओगे । कमाने के कई तरीके होते हैं लेकिन आपके पास वकील एल एल बी (LLB)की डिग्री है तो फिर मजे ही मजे हैं ।

      अधिवक्ता और लॉयर का एक समान काम ही होता है। अधिवक्ता जिसे एडवोकेट बोलते हैं वह किसी न किसी का पक्ष रखता है। और लॉयर भी आपको कोर्ट में मिलेगा वह भी अपराध से कैसे बचना है आपको सलाह मसवरा देता है और कोर्ट में आपको बचाने के लिए आपका पक्ष रखता है। कभी कभी कन्फूजन हो जाती है कि अधिवक्ता और लॉयर अलग-अलग होते हैं। ऐसा नहीं है दोनों एक ही होते हैं।

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग का 3 महीने में सिर्फ 1 माह का राशन बांटा जाता है बाकी का घोटाले की भेंट।Click To Read

अपनी ख़ूबसूरती को बापस पाने के लिए आपने क्या-क्या नहीं आजमाया अब ये भी आजमा लो।क्लिक करके पढ़ें।

थूंकना मना होता है, जहाँ पेशाब करना मना होता है अक्सर वहीं लोग थूंकते और पेशाब करते हैं। Click To Read

अधिवक्ता बनने के लिए कौन सी पढ़ाई की जाती है?

लॉयर की पढ़ाई कैसे करें? लॉयर की डिग्री कैसे मिलेगी? अधिवक्ता की डिग्री कैसे मिलेगी?

  अधिवक्ता की डिग्री के लिए आपको 12th पास करने के बाद भी BA LLB, BBA LLB या Bcom LLB की पढ़ाई करके आप अधिवक्ता या वकील बन सकते हैं। आप Ba, Bsc के बाद भी LLB की पढ़ाई कर सकते हैं, आपने साथ में अन्य कोई कोर्स किया है आप तब भी LLB कर सकते हैं। लेकिन आपकी कमसे कम 12th होना अनिवार्य है।


     आप LLB कोर्स करने के बाद किसी अनुभवी वकील के साथ कुछ दिन रहकर अपना अनुभव बढ़ा सकते हैं। फिर आप अपनी क्षमता अनुसार जिला न्यायालय या हाई कोर्ट सुप्रीम कोर्ट कहीं भी वकालत कर सकते हैं।


     अधिवक्ता बनने के लिए पैसा देकर सीधे-सीधे डिग्री हासिल करने का प्रावधान भी है अगर आप चाहते हैं। यह डिग्री सिर्फ दिखावे के लिए होती है। इस डिग्री को भ्रस्टाचार में लिप्त डिग्री भी कह सकते हैं।

एक असली वारदात जिसमें वकील ने खूब पैसा कमाया।

      यह कोई काल्पनिक कहानी नहीं है। एक गांव है औरैया जिला में जहाँ दो भाई रहते थे जिसमें से एक डकैत था उसका नाम राधे था जो चोरी अपहरण और हत्या जैसे मामलों को अंजाम देता था। दूसरा भाई किसी की हत्या, अपहरण तो नहीं करता था लेकिन चोरी करने में कभी कभार भाई राधे के साथ जरूर जाता था। एक दिन राधे ने एक व्यक्ति की हत्या कर दी। हत्या के कुछ दिन बाद पुलिस कार्यवाही में राधे भी मारा गया। यहाँ तक तो ठीक है लेकिन हत्यारे भाई की सजा दुसरे भाई महेश को मिल रही है जो अभी भी इटावा की जेल में है। महेश को निर्दोष साबित करने के लिए कई वकीलों ने लाखों रूपये उसके परिवार से इकट्ठे कर लिए। महेश के परिवार की लगभग सभी संपत्ति वकीलों की फीस भरने में चली गयी। वकील झांसा देते रहे कि हम महेश को बचा देंगे और रूपये ऐंठते रहे फिर भी महेश को जेल जाना पड़ा। महेश की जमीन आदि बहुत ही सस्ते दामों में बिक गयी। महेश निर्दोष है यह सब जानकारी उनके महेश के परिवार के अनुसार है.

         आप वकील बनने के लिए किस प्रकार के वकील बनना चाहते हैं उसके हिसाब से तैयारी करनी पडती है । आप जैसे सौ दो सौ करोड़ का घोटाला करना चाहते हैं तो कपिल सिब्बल जितनी पढ़ाई करनी होगी । और आप साधारण वकील बनकर गुजारा कर लेंगे तो एल एल बी का तीन वर्ष का कोर्स करके ही काम शुरू हो जायेगा । आपको छोटे मोटे मामले मिलते रहेंगे जिनसे आपकी कमाई होती रहेगी । जब आपके मामले छोटे होंगे तो कमाई भी छोटी होगी । बड़े मामले नेताओं के होते हैं बड़े बिजनेस मैन के होते हैं जिनसे मोटी कमाई होती है । मोटी कमाई के हिसाब आप एक केस लेने का कमसे कम दस लाख फीस ले सकते हैं ।


एक अधिवक्ता की फर्जी कमाई की असली कहानी?

        एक मित्र भी नहीं हैं बस पास के गांव के पडोसी हैं। उस अधिवक्ता का नाम इसलिए नहीं लिख रहा हूँ कि वह अकेला ही नहीं है जो इतनी रिश्वत ले रहा है। अधिकतम अधिवक्ता और लॉयर ऐसा ही करते हैं।


     हमें भी थोड़ा काम था जिला कचहरी में तो अपने पडोसी अधिवक्ता के पास बैठा था। तभी एक परिवार वहां आया जिसमें एक महिला थी उम्र 45 के लगभग 3 पुरुष थे उम्र 50 के आसपास। सभी की परेशानी साफ साफ चेहरे पर दिखाई दे रही थी। उन सभी का कोई अपराध नहीं था अपराधी उनका बेटा था। उनके बेटे ने किसी आस पड़ोस की बेटी को भगाने का आरोप था और आरोप सच था। उस परिवार के अनुसार लड़की पक्ष ने एफ आई आर और मुकदमा दोनों कर दिए थे। लेकिन लड़का और लड़की अभी तक पकडे नहीं गए थे। मुकदमे में पुष्टि भी नहीं थी कि लड़का भगा कर ले गया है या लड़की अपनी मर्जी से गयी है। यह बात तो बाद में पता चलती है जब लड़का लड़की पकडे जायेंगे उनके बयान लिए जायेंगे।

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

इंडिया पोस्ट की डाक सेवा द्वारा अफीमचरसगांजा कुछ भी भेजो क्लिक करके पढ़ें।

Vidhyut sakhi तो बना दीं लेकिन रोजगार के नाम पर सखियों को गांव गांव घुमाकर समस्या का हल तो नहीं मिला Click To Read

गरीबों को बाँटने वाला राशन अधिकारी ही गायब कर देते हैं। जानता का भला कैसे होगा? Click To Yojna

        हालांकि कभी कभार पैसे के दबाव में पुलिस जब जाँच करती है तो लड़के पर मुकदमा एफ आई आर के अनुसार ही फर्जी तरीके से हो जाता है ऐसा सुनने में आता है।


     लड़का लड़की फरार थे क्या थे कैसे थे कुछ मालूम नहीं। लेकिन लड़की का परिवार खुद की इज्जत ढकने में लगा था परेशान था लड़के का परिवार खुद में परेशान था। किसी भी बेटी या बेटे को ऐसा कदम नहीं उठाना चाहिए जिससे माँ बाप और परिवार का सिर शर्म से झुकना पड़े।


      लड़के का परिवार अपने आपको बचाने के लिए अधिवक्ता से सलाह लेने आया था। अधिवक्ता ने सलाह देदी और अस्वासन भी दे दिया कि हम आपके बेटे को जेल जाने से बचा देंगे बस लड़की बयान न बदले और लड़की बालिग़ हुयी । एक बात समझ नहीं आयी अगर लड़की अपने बयान नहीं बदलेंगी तो एक अधिवक्ता का क्या अहसान है कि आपने बचा लिया। खैर जो भी सलाह देने के बाद वह परिवार वहां से चला गया। फिर जब दो अधिवक्ता आपस में बैठे तो बातें सुरु की कि यार अगर यह केस मेरे हांथो में आ गया तो कमसे कम 50 हजार की कमाई हो जाएगी।


        हम सुनकर दंग रह गए कास में भी अधिवक्ता होता तो इतनी कमाई कर सकता। किसी की मजबूरी का इतना फायदा उठाता। अधिवक्ता के बीच की बात इसलिए ऐसी थी की लड़की पक्ष लड़के को दोसी साबित करने के लिए थाने से लेकर कोर्ट तक रिश्वत देगा। और लड़का पक्ष अपने बेटे को बचाने के लिए थाने और अधिवक्ता को रिश्वत देगा।

     और पुलिस को सायद आप भी अच्छी तरह जानते हैं आप जैसी चाहो वैसी रिपोर्ट लिखा सकते हैं। जैसी चाहो वैसी जाँच करवा सकते हो।

वकील बनके  कैसे करनी है कमाई ।

                  छोटे मामलों में - जैसे कि कोई व्यक्ति है जिसे दहेज प्रथा का मामला लग गया है आपको उसे बचाना है । और बचाने के नाम पर धन उगाही करनी है । दहेज प्रथा के मेरे हिसाब से 90% से भी अधिक मामले फर्जी होते हैं । मामले फर्जी हैं फर्जी कह नहीं सकते क्योंकि ये दहेज प्रथा का केस है ही ऐसा जिसमें लड़की की ही सब बात मानी जाती है । बाकी व्यक्ति ने भले ही अपनी बीवी को सहन किया हो । जिस पर दहेज प्रथा का केस लगा है उसके अंदर डर है । जब उसके दिमाग में डर घर किये है कि तुम्हारी प्रॉपर्टी का आधा हिस्सा बीवी ले जाएगी । उसके आधे हिस्से को बचाने के लिए उसकी जेल बचाने के लिए आपको क्लाइंट से मनमानी धन उगाही करनी है ।

              एक वकील फीस लेता जो खुलेआम ले सकता है। वकील को कोई रोक नहीं सकता है। कितनी अधिक फीस लेता है यह अपराध पर निर्भर है। अगर किसी व्यक्ति का लड़की भगाने का मामला है तो वहां पर मनमानी फीस भी ली जाती है, यह हमें खुद एक वकील ने बताया। वकील को यह पता ही नहीं था कि मेरी बात कभी किसी पोस्ट में लिखी जाएगी।

        वकील का कहना था अगर कोई लड़की भगा कर ले गया है और पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। पुलिस जाँच के बाद मामला तो न्यायालय में भेजती है उसके बाद तो आपको वकील करना होता है। जिस लड़के ने किसी लड़की को भगाया है वह अपने बचाव में कुछ भी करेगा। अपने आप को बचाने के लिए 5 हजार से लेकर 50 हजार या उससे अधिक फीस भी हो सकती है। अगर किसी पर बलात्कार का अपराध लगा है तो अपने आपको बचाने के लिए बकील को मनमानी फीस देता है।

        किसी पर हत्या का मामला है और मामला झूंठ है या सच है तो उस हिसाब से कमाई निर्भर करती है । अगर किसी पर मर्डर केस झूठा लगा है तो उससे आपकी कमाई होगी । और किसी ने सच में हत्या की है वहाँ आपकी कमाई क्लाइंट की आर्थिक स्थिति के हिसाब से होनी ही है ।

            किसी की प्रॉपर्टी की बेईमानी के मामले- प्रॉपर्टी के मामलों में भी अच्छी कमाई होती है। लेकिन ये कमाई इस बात पर निर्भर करती है कि आपके पास किस प्रकार का क्लाइंट आया है । अगर किसी के मकान पर कब्ज़ा हुआ है वही आपके पास आया है अपना मकान बचाने के लिए तो वहाँ कमाई कम ज्यादा इस बात पर निर्भर करती है । उस व्यक्ति का मकान पहले से ही अवैध है, अगर अवैध है तो वह आपको अच्छी रकम थमा देगा । और उसका मकान वैध है फिर किसी ने कब्ज़ा कर लिया है तो वहाँ कमाई कम होगी क्योंकि वो तो आपका लिखित में है समय कितना भी नस्ट कर लो मकान वाले को उसका मकान मिलेगा । और उसी के साथ उससे पैसे ऐंठते रहो ।

अन्य भ्रष्टाचार से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दी हुयी पोस्ट पर क्लिक करें.

ग्राम विकास अधिकारी से ग्राम का विकास हो  हो लेकिन खुद का खूब हुआ है। Click To Read

स्वयं सहायता समूह के द्वारा रोजगार मिलने के अवसर में भी रिश्वत का खेल। ClickTo Read

धर्म के नाम की हिंसा लोगों के दिमाग़ में कट्टरता  एक बहुत बड़े सडयंत्र से भरी जा रही है। Click To Read

    

    लड़ाई दंगे के मुकदमे में आपकी कमाई कम हो पायेगी । क्योंकि लड़ाई में थोड़ी में थोड़ी गलती दोनों पक्ष की होती है । किसी ने थोड़ी सी गलती पहले की हो या बाद में । गर्म खून है लोगों का बर्दास्त तो है नहीं किसी को । हर किसी की गलती का एक ही निर्णय है उसे मारपीट लो । और जब मार पीट हुयी है तो एफ आई आर भी होगी । हालांकि हल्के फुल्के झंझट के मामले थाने में ही ले दे कर समिट जाते हैं । जब थाने से मामला आगे बढेगा तो आपको कमाई का साधन मिलेगा ।

      लड़ाई दंगे के मामले में आपकी अच्छी खासी कमाई हो जाएगी अगर मामला हर्जन एक्ट का है । हर्जन एक्ट बनाया तो इसलिए गया था कि दलितों पर अत्याचार सच में कभी होता था । और कभी कभार अभी भी हो जाता है । आये दिन अखवार और न्यूज़ चैनल में सुनते रहते हैं । एक सच्चाई ये भी है हर्जन एक्ट के नाम पर अधिकतम केस फर्जी भी दर्ज होते हैं । एक दलित व्यक्ति जानबूझकर ऊट पटांग हरकतें इसलिए करता है अगर हमें कोई हाथ भी लगाएगा तो मेरे पास हर्जन एक्ट की ताकत है । उसकी हरकत के हिसाब से किसी जनरल व्यक्ति ने या ओबीसी व्यक्ति ने विरोध कर दिया है तो हर्जन एक्ट लगा दिया जाता है । हरकतों के विरोध में लाठी डंडे भी चलते हैं, लाठी डंडो के बीच में महिलाएं भी आ जाती हैं तो जो हर्जन महिलाएं हैं वो छेड छाड़ का केश मौका लगा तो रेप भी लिखवा देतीं हैं । ऐसे मामले में अगर आपके पास जनरल व्यक्ति आया है तो उसे बचाने के लिए आपको अच्छी खासी कमाई का मौका मिल जायेगा ।

             यही सब तरह की बातें अमीर और नेता लोगों पर लागू होती हैं । लेकिन वह अपना केश आपको आपकी डिग्री के हिसाब से देते हैं । अगर आपकी डिग्री अच्छी है और केस भी पिछले अधिक से अधिक जीत कर दिए हैं तो आपकी मोटी कमाई होगी ।

       तो फ्रेंड वकील एल एल बी (L. L. B.) का कोर्स अवश्य कर लें । अगर सफलता मिल गयी कहीं नहीं जाना है घर बैठे कमाओगे । बड़े बड़े आदमी आपकी हाँ हजूरी करेंगे ।

No comments:

Post a Comment

Total Pageviews

पेज